EF ब्लॉग

ETH ऊपर के बैकग्राउंड की शुरुआती इमेज
ETH नीचे के बैकग्राउंड की अंतिम इमेज
सीधे सामग्री पर जाएँ

यह पोस्ट 10 भाषाएँ में उपलब्ध है:

हिन्दी

रोपस्टेन TTD की घोषणा

प्रोटोकॉल सपोर्ट टीम द्वारा 3 जून 2022 को पोस्ट किया गया

रोपस्टेन TTD की घोषणा
  • रोपस्टेन मर्ज के लिए 50000000000000000 की टर्मिनल टोटल डिफ़िकल्टी (TTD) चुनी गई है।
  • स्टेकर्स और नोड ऑपरेटरों को 7 जून, 2022 से पहले अपने एक्ज़ीक्यूशन और कॉन्सेंसस लेयर क्लाइंट, दोनों में TTD को मैन्युअल तरीके से ओवरराइड करना होगा।
  • प्रूफ़-ऑफ़-वर्क टेस्टनेट के हैश रेट लगातार बदलते रह सकते हैं और इसके कारण रोपस्टेन के मर्ज के सही समय का सटीक अनुमान लगाना मुश्किल होता है। अगर हैश रेट में कोई भी अप्रत्याशित उतार-चढ़ाव नहीं आया, तो हमारा अनुमान है कि मर्ज 8-9 जून, 2022 के आसपास होगा।
  • ध्यान दें कि रोपस्टेन पर एक्ज़ीक्यूशन लेयर क्लाइंट को सिंक करने में कई घंटे से लेकर कई दिनों तक का समय लग सकता है और इसे सिंक करना मर्ज से होकर गुज़रने के लिए ज़रूरी होता है

बैकग्राउंड

इस सप्ताह की शुरुआत में, रोपस्टेन टेस्टनेट के प्रूफ़-ऑफ़-स्टेक में ट्रांज़िशन की घोषणा की गई थी। प्रूफ़-ऑफ़-वर्क टेस्टनेट पर हैश रेट की अस्थिरता के कारण, अपग्रेड को सपोर्ट करने वाली क्लाइंट रिलीज़ को कृत्रिम रूप से उच्च टर्मिनल टोटल डिफ़िकल्टी (TTD) का उपयोग करके कॉन्फ़िगर किया गया था। इससे यह सुनिश्चित होता है कि रोपस्टेन बीकन चेन के तैयार होने से पहले मर्ज को चालू नहीं किया जा सकेगा।

कल, स्लॉट 24000 पर, बेलाट्रिक्स अपग्रेड, रोपस्टेन बीकन चेन पर सक्रिय हो गया, जिससे नेटवर्क, मर्ज से होकर चलने लगा। ट्रांज़िशन शुरू करने के लिए 50000000000000000 का एक नया TTD मान चुना गया है।

इससे पहले कि नेटवर्क इस टोटल डिफ़िकल्टी तक पहुँचे, नोड ऑपरेटरों और स्टेकर्स को अपने एक्ज़ीक्यूशन और कॉन्सेंसस लेयर क्लाइंट, दोनों पर इस TTD मान को मैन्युअल तरीके से अपडेट करना होगा। मौजूदा नेटवर्क टोटल डिफ़िकल्टी, ब्लॉक हेडर का एक हिस्सा होती है और इसे आपके नोड पर क्वेरी करके या ब्लॉक एक्सप्लोरर पर जाकर प्राप्त किया जा सकता है।

अगर हैश रेट में कोई भी अप्रत्याशित बदलाव नहीं आया, तो हमारा अनुमान है कि 8-9 जून, 2022 के आसपास नेटवर्क इस टोटल डिफ़िकल्टी मान तक पहुँच जाएगा और TTD को पीछे छोड़ देगा।

रोपस्टेन मर्ज क्लाइंट वर्ज़न

टर्मिनल टोटल डिफ़िकल्टी को ओवरराइड करने के लिए, नोड ऑपरेटरों और स्टेकर्स को नीचे दिए गए क्लाइंट वर्ज़न या इनसे भी नए वर्ज़न चलाने होंगे। ध्यान रखें कि मर्ज से पहले कॉन्सेंसस और एक्ज़ीक्यूशन लेयर क्लाइंट, दोनों पूरी तरह सिंक हो जाने चाहिए और यह भी ध्यान रखें एक्ज़ीक्यूशन लेयर क्लाइंट को सिंक होने में कई घंटे से लेकर कई दिनों तक का समय लग सकता है।

कॉन्सेंसस लेयर

नामवर्ज़नलिंक
लाइटहाउसबेबी विज़ार्ड (2.3.0)डाउनलोड करें
लोडस्टारv0.37.0डाउनलोड करें
प्रिज़्मv2.1.3-rc.2डाउनलोड करें
निंबसv22.5.2डाउनलोड करें
टेकुv22.5.2डाउनलोड करें

एक्ज़ीक्यूशन लेयर

नामवर्ज़नलिंक
बेसुv22.4.2डाउनलोड करें
एरिगोनv2022.05.08डाउनलोड करें
गो-एथेरियम (गेथ)v1.10.18डाउनलोड करें
नेदरमाइंडv1.13.1डाउनलोड करें

🚨 ब्लॉग पोस्ट का हिस्सा नहीं है - एरिगॉन रिलीज़ की स्थिति के आधार पर नीचे दिए गए नोट्स में से किसी एक का उपयोग करें 🚨

(🚨1🚨) एरिगॉन नोट: हालाँकि v2022.05.08 रोपस्टेन मर्ज के अनुरूप है, लेकिन इसे vXXX में अपडेट करने का सुझाव दिया जाता है, जिसमें मर्ज से संबंधित कई सुधार किए गए हैं।

(🚨2🚨) एरिगॉन नोट: हालाँकि v2022.05.08 रोपस्टेन मर्ज के अनुरूप है, लेकिन जल्द ही एक नई एरिगॉन रिलीज़ आने वाली है, जिसमें मर्ज से संबंधित कई सुधार किए गए हैं। बेहतरीन अनुभव पाने के लिए, रिलीज़ के उपलब्ध होने पर उपयोगकर्ताओं को उस पर अपग्रेड कर लेना चाहिए।

टर्मिनल टोटल डिफ़िकल्टी ओवरराइड

मर्ज को सही समय पर चालू करने के लिए, नोड ऑपरेटरों और स्टेकर्स को अपने एक्ज़ीक्यूशन और कॉन्सेंसस लेयर क्लाइंट, दोनों के टर्मिनल टोटल डिफ़िकल्टी (TTD) मान को 50000000000000000 पर ओवरराइड करना होगा।

यहाँ हर क्लाइंट के साथ ऐसा करने के निर्देश दिए गए हैं:

एक्ज़ीक्यूशन लेयर

बेसु

  • अगर आप TOML कॉन्फ़िगरेशन फ़ाइलों का उपयोग कर रहे हैं, तो नीचे दी गई लाइन जोड़ें: override-genesis-config=["terminalTotalDifficulty=50000000000000000"]
  • या, CLI का उपयोग करके नोड शुरू करते समय, नीचे दिया गया फ़्लैग जोड़ें: --override-genesis-config="terminalTotalDifficulty=50000000000000000"

एरिगोन

  • CLI का उपयोग करके नोड शुरू करते समय, नीचे दिया गया फ़्लैग जोड़ें: --override.terminaltotaldifficulty=50000000000000000

गो-एथेरियम (गेथ)

  • CLI का उपयोग करके नोड शुरू करते समय, नीचे दिया गया फ़्लैग जोड़ें: --override.terminaltotaldifficulty 50000000000000000

नेदरमाइंड

  • CLI का उपयोग करके नोड शुरू करते समय, नीचे दिया गया फ़्लैग जोड़ें: --Merge.TerminalTotalDifficulty 50000000000000000
  • TerminalTotalDifficulty के मान को 50000000000000000 पर सेट करके इसे आपके क्लाइंट की कॉन्फ़िगरेशन फ़ाइल या एन्वायरमेंट वेरिएबल में भी सेट किया जा सकता है

कॉन्सेंसस लेयर

लाइटहाउस

  • CLI का उपयोग करके नोड शुरू करते समय, नीचे दिया गया फ़्लैग जोड़ें: --terminal-total-difficulty-override=50000000000000000

लोडस्टार

  • CLI का उपयोग करके नोड शुरू करते समय, नीचे दिया गया फ़्लैग जोड़ें: --terminal-total-difficulty-override 50000000000000000
  • अधिक जानकारी पाने के लिए यह ब्लॉग पोस्ट देखें।

निंबस

  • CLI का उपयोग करके नोड शुरू करते समय, नीचे दिया गया फ़्लैग जोड़ें: --terminal-total-difficulty-override=50000000000000000

प्रिज़्म

  • CLI का उपयोग करके नोड शुरू करते समय, नीचे दिया गया फ़्लैग जोड़ें: --terminal-total-difficulty-override 50000000000000000
  • आपकी कॉन्फ़िगरेशन डायरेक्ट्री में TOTAL_TERMINAL_DIFFICULTY के मान को अपडेट करके और अपने क्लाइंट को रीस्टार्ट करके इसे config.yaml फ़ाइल में भी सेट किया जा सकता है।

टेकु

  • CLI का उपयोग करके नोड शुरू करते समय, नीचे दिया गया फ़्लैग जोड़ें: --Xnetwork-total-terminal-difficulty-override=50000000000000000

अकसर पूछे जाने वाले प्रश्न

नोड ऑपरेटर या स्टेकर के तौर पर, मुझे क्या करना चाहिए?

जैसा कि रोपस्टेन मर्ज की घोषणा में बताया गया है, रोपस्टेन पर मौजूद नोड ऑपरेटरों और स्टेकर्स को अपने एक्ज़ीक्यूशन और कॉन्सेंसस लेयर क्लाइंट को ऊपर बताए गए या उनसे भी नए वर्ज़न पर अपडेट करना होगा।

ऐसा करने के बाद, नोड ऑपरेटरों और स्टेकर्स को अपने एक्ज़ीक्यूशन और कॉन्सेंसस लेयर क्लाइंट, दोनों पर रोपस्टेन टर्मिनल टोटल डिफ़िकल्टी (TTD) मान को ऊपर बताई गई कमांड्स का उपयोग करके मैन्युअल तरीके से ओवरराइड करना होगा।

अंत में, सुनिश्चित करें कि मर्ज से पहले आपके एक्ज़ीक्यूशन और कॉन्सेंसस लेयर क्लाइंट, दोनों पूरी तरह से सिंक हो गए हैं। एक्ज़ीक्यूशन लेयर क्लाइंट के लिए इसमें कई दिनों का समय लग सकता है।

एप्लिकेशन या टूलिंग डेवलपर के तौर पर, मुझे क्या करना चाहिए?

अभी रोपस्टेन पर मर्ज लाइव हो रहा है, इसलिए अब यह सुनिश्चित करने का समय आ गया है कि आपका उत्पाद प्रूफ़-ऑफ़-स्टेक ट्रांज़िशन करके और मर्ज के बाद सही ढंग से काम करे। जैसा कि पिछली पोस्ट में बताया गया है, मर्ज का एथेरियम पर डिप्लॉय किए गए अनुबंधों के सबसेट पर बहुत ही कम प्रभाव पड़ेगा, जिनमें से कोई भी टूटना नहीं चाहिए। इसके अलावा, यूज़र API एंडपॉइंट में लॉयन का हिस्सा एक जैसा बना रहेगा (बशर्ते कि आप प्रूफ़-ऑफ़-वर्क विशिष्ट तरीकों जैसे eth_getWork का उपयोग नहीं कर रहे हों)।

इस तरह एथेरियम पर मौजूद अधिकांश एप्लिकेशन में चेन में मौजूद अनुबंधों से कहीं ज़्यादा चीज़ें शामिल होती है। अब आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आपका फ्रंट एंड कोड, टूलिंग, डिप्लॉयमेंट पाइपलाइन और चेन से बाहर के अन्य घटक, मनचाहे तरीके से काम करें। हमारा सुझाव है कि डेवलपर्स रोपस्टेन (या किल्न) पर एक पूरी टेस्टिंग और डिप्लॉयमेंट साइकल ज़रूर चलाएँ और टूल्स या डिपेंडेंसी में कोई भी समस्या होने पर प्रोजेक्ट के मेंटेनर्स को उसकी रिपोर्ट करें। अगर आप इस बारे में निश्चित नहीं हैं कि आपको किसी समस्या की रिपोर्ट कहाँ करनी चाहिए, तो कृपया इस रिपोज़िटरी का उपयोग करें।

एथेरियम यूज़र या ईथर धारक के तौर पर, क्या मुझे कुछ करना होगा?

नहीं। एथेरियम मेननेट इस टेस्टनेट से प्रभावित नहीं हुआ है। मेननेट के ट्रांज़िशन से पहले इस ब्लॉग पर आगे की कुछ घोषणाएँ की जाएँगी।

माईनर के तौर पर, क्या मुझे कुछ करना होगा?

नहीं। यदि आप एथेरियम मेननेट या रोपस्टेन पर माईनिंग कर रहे हैं, तो आपको पता होना चाहिए कि मर्ज के बाद प्रत्येक नेटवर्क पूरी तरह से प्रूफ़-ऑफ़-स्टेक के अंतर्गत काम करेगा। तब नेटवर्क पर माईनिंग करना संभव नहीं रह जाएगा।

ऐसा रोपस्टेन पर संभवतः 8-9 जून, 2022 के आसपास और एथेरियम मेननेट के लिए इस साल के अंत तक हो जाएगा।

मर्ज कब होगा?

इस पोस्ट के प्रकाशन के समय, एथेरियम मेननेट के प्रूफ़-ऑफ़-स्टेक ट्रांज़िशन की तारीख तय नहीं की गई है। किसी तारीख का दावा करने वाला कोई भी स्रोत, स्कैम हो सकता है। अपडेट इस ब्लॉग पर पोस्ट किए जाएँगे। कृपया सुरक्षित रहें!

अगर रोपस्टेन में कोई समस्या नहीं हुई, तो क्लाइंट टेस्टिंग पूरी हो जाने के बाद, एथेरियम के अन्य टेस्टनेट, मर्ज से होकर गुज़रेंगे। गोएर्ली और सेपोलिया का ट्रांज़िशन सफलतापूर्वक हो जाने और इनमें स्थिरता आ जाने के बाद, बीकन चेन पर बेलाट्रिक्स अपग्रेड के लिए एक स्लॉट हाइट चुनी जाएगी और मेननेट ट्रांज़िशन के लिए एक टर्मिनल टोटल डिफ़िकल्टी मान सेट किया जाएगा। क्लाइंट इसके बाद रिलीज़ जारी करेंगे, जिससे मेननेट पर मर्ज हो सकेगा। इनकी घोषणा इस ब्लॉग और कम्युनिटी के अन्य प्रकाशनों में की जाएगी। इस प्रक्रिया को नीचे दिए गए चित्र में दर्शाया गया है:

ध्यान दें कि इसमें यह माना गया है कि हर चरण उम्मीद के अनुसार पूरा होगा। हालाँकि, अगर इस प्रक्रिया में कहीं पर भी समस्याएँ आती हैं या टेस्ट का कवरेज अपर्याप्त माना जाता है, तो डिप्लॉयमेंट प्रक्रिया को जारी रखने से पहले उन समस्याओं का समाधान किया जाएगा।

इसके बाद ही मर्ज की सही तारीख का अनुमान लगाना संभव हो पाएगा।

दूसरे शब्दों में, 🔜।

इस पोस्ट का अंग्रेजी से अनुवाद किया गया है। परिणामस्वरूप हो सकता है कि यह पूरी तरह सटीक या अपडेट न हो। मूल संस्करण अंग्रेज़ी में देखा जा सकता है।

Subscribe to Protocol Announcements

Sign up to receive email notifications for protocol-related announcements, such as network upgrades, FAQs or security issues. You can opt-out of these at any time.


श्रेणियाँ